ऐलनाबाद की पिच पर नेताओं ने लगाए बयानों के चौके छक्के

ऐलनाबाद की पिच पर नेताओं ने लगाए बयानों के चौके छक्के


राज नुगरिया@ ऐलनाबाद: सोमवार को ऐलनाबाद में चुनाव प्रचार सेमीफाइल में पहुंच गया। सभी पार्टियों ने अपने-अपने धुरंधरों को मैदान में उतार दिया है। चुनावी सभाओं में नेता राजनीतिक बयानों से एक दूसरे पर खूब आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

अभी तक चुनाव प्रचार की बात की जाए, तो गठबंधन के प्रत्याशी गोविंद कांडा चुनावी पिच पर कुछ ज्यादा नहीं कर पाते दिख रहे हैं। वे जिस गांव में भी जाते हैं, वहां उनको पूरी तरह से विरोध का सामना करना पड़ रहा है। उनकी चुनावी सभाओं में लोगों की भीड़ कम व सुरक्षा कर्मियों की ज्यादा दिखाई देती है। उनके चुनावी बयान ऐलनाबाद के लोगों के सिर के ऊपर से बाउंस बॉल की तरह जा रहे हंै।

सोमवार को प्रदेश भाजपा कप्तान ओमप्रकाश धनखड़ पूरे दमखम के साथ चुनाव मैदान में उतरे। उन्होंने ऐलनाबाद में कुछ ही घंटों में ताबड़तोड़ 10 गांव नाप दिये। अपने चुनावी बयानों से विरोधियों पर खूब चौके-छक्कों की बरसात की और उन्हें धो डाला। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने दावा किया कि ऐलनाबाद उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी भारी मतों से जीत का छक्का •ाड़ेंगे। उन्होंने कहा कि ऐलनाबाद की जनता इस उपचुनाव में कांग्रेस व इनेलो को क्षेत्र से आउट करके सीधा पवेलियन भेजेगी। वहीं विभिन्न गांवों में चुनाव प्रचार अभियान के दौरान लोकसभा सांसद सुनीता दुग्गल चुनावी पिच पर आंकड़ों के साथ मौजूदा सरकार में गांव में करवाए गए विकास कार्य गिनवाती नजर आईं।

दूसरी छोर पर इनेलो की टीम पूरी तरह से फॉर्म में दिख रही है। इनेलो प्रत्याशी अभय चौटाला ने प्रसार में अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है। वहीं इनेलो को राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी चौटाला का अनुभव भरपूर मिल रहा है। ओपी चौटाला अनुभवी होने के कारण पूरी इनेलो की टीम को साथ लेकर चल रहे हैं। इसका इनेलो को पूरा-पूरा लाभ मिल रहा है। अभय सिंह की जीत के लिए ओपी चौटाला, स्वयं अभय सिंह और उनके पुत्र अर्जुन चौटाला रात दिन एक कर रहे हैं। चौटाला परिवार की इन तीन पीढिय़ों के सामने चुनौतियां ही चुनौतियां हैं। देखा जा रहा है कि जिस प्रकार से ओमप्रकाश चौटाला अपने अनुुभवी बयानों से विपक्षियों पर प्रहार कर रहे हैं, उससे लगता है कि इनेलो और भाजपा में ही ऐलानाबाद का फाइनल मैच होने की जा रहा है। वहीं कांग्रेस की टीम का तो बुरा हाल दिख रहा है। लगता है कि कांग्रेस के खिलाडिय़ों ने ऐलनाबाद उपचुनाव फिक्स कर रखा है। कांग्रेस के बड़े खिलाड़ी मैदान में उतर तो जरूर रहे हंै। लेकिन अपनी टीम के लिए कुछ ज्यादा नहीं करते दिखाई दे रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा चुनाव प्रसार के ऑलराउडंर कहलाते हैं लेकिन वो इस पिच उतरे तो सही, लेकिन अपने ही पार्टी प्रत्याशी को रन आउट करवा गए। सोमवार को राज्यसभा सांसद दीपेन्द्र हुड्डा भी मैदान में आए। उन्होंने आते ही अपने बयान से जोश भर दिया। ऐलनाबाद उपचुनाव मैच में एक नई जान फूंक दी।अब भाजपा उतारेगी अपने फ्रंटफुट पर खिलाड़ीमुख्यमंत्री मनोहर लाल व उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला बुधवार से चुनावी मैदान में गठबंधन की टीम को जिताने के लिए उतरेंगे। लम्बी पारी खेलने का अनुभव के साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल फुलफॉर्म के साथ नाथूसरी चौपटा क्षेत्र पिच से चौके-छक्के लगाएंगे।

उधर भाजपा ने मास्टर स्ट्रोक खेलते हुए बीजेपी-जेजेपी प्रत्याशी गोबिंद कांडा के लिए अब मशहूर डांसर सपना चौधरी को भी प्रचार मैदान में उतार दिया है। सपना के लिए किसानों की गुगली गले की फांस बन सकती है, क्योंकि बीते 11 महीनों से सपना चौधरी ने आंदोलन को लेकर कुछ नहीं बोला था। मगर अब प्रचार मैदान में उतरेंगी। सपना ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र में चुनाव प्रचार करेंगी। हालांकि उनके गांव देर शाम तक तय नहीं हो पाए थे। लेकिन पार्टी उन्हें दो दिन तक उनसे चुनाव प्रचार में अलग-अलग गांव में वोट की अपील करवाएगी।

सपाना चौधरी ने खुद एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए लोगों से गोविंद कांडा के पक्ष में वोट करने की अपील की है। अब देखना यह है कि कौन सी राजनीति टीम फाइनल तक पहुंचती है। फाइनल जीतकर ऐलनाबाद अपने नाम करती है। यह तो आने वाले 2 नवम्बर को ही पता चल सकेगा।