• indianews86@gmail.com
  • ghaziabad, uttar pradesh

गौतमबुद्ध नगर में शराब तस्करों के खिलाफ जंग, आबकारी विभाग सख्त

प्रमोद शर्मा @ नोएडा। जनपद गौतमबुद्ध नगर में दिल्ली से अवैध शराब की आवक रोकने के लिए आबकारी विभाग ने कमर कस रखी है। दिल्ली-नोएडा के चारों बॉर्डर पर दिन-रात निगरानी बरती जा रही है। शराब तस्करों से निपटने के लिए मेरठ मंडल तक से इंस्पेक्टर बुलाए गए हैं। कुल 15 इंस्पेक्टर और 20 सिपाही मुस्तैदी से फील्ड में काम कर रहे हैं।

आबकारी अधिकारी भी समय-समय पर मातहतों का मनोबल बढ़ाने के साथ-साथ उनके आवश्यक दिशा-निर्देश दे रहे हैं। दिल्ली की सस्ती शराब की गौतमबुद्ध नगर में भी काफी डिमांड है। शराब के शौकीन तस्करों के जरिए अपनी पसंद का ब्रांड मंगवाने को आतुर रहते हैं। यूपी के मुकाबले दिल्ली में शराब के दाम काफी कम होने से तस्करी की संभावना बढ़ गई है। यूपी सरकार के आदेश पर आबकारी विभाग को दिल्ली से सटे नोएडा के सभी बॉर्डर पर चौकसी बढ़ानी पड़ी है। दिल्ली-नोएडा के बीच सेक्टर-14ए, कोंडली, झुंडपुरा और अशोक नगर बॉर्डर आते हैं।

जहां से शराब तस्करी की संभावना सबसे ज्यादा रहती है। चारों बॉर्डर के आस-पास शराब की दुकानें भी हैं। दिल्ली से सस्ती शराब खरीद कर गौतमबुद्ध नगर में अच्छे दामों में बेचने की लालसा में तस्कर नियम-कानूनों के साथ खिलवाड़ करने से परहेज नहीं करते हैं। गौतमबुद्ध नगर में शराब तस्करों के खिलाफ अभियान चल रहा है। शराब तस्करों की गिरफ्तारी और अवैध शराब बरामद होने का सिलसिला जारी है। इसके बावजूद तस्कर बाज नहीं आ रहे हैं। गौतमबुद्ध नगर में शराब तस्करों पर नकेल कसने के लिए वर्तमान में जिला आबकारी अधिकारी के नेतृत्व में 35 सदस्यीय टीम मुस्तैद है। इनमें 15 इंस्पेक्टर और 20 सिपाही हैं।

15 में से 9 इंस्पेक्टर मेरठ मंडल से बुलाए गए हैं। चूंकि दिल्ली में शराब सस्ती होने के बाद से तस्करी को बढ़ावा मिला है। ऐसे में विभाग को मैन पावर बढ़ाने की जरूरत महसूस हुई है। इसी कड़ी में आबकारी निरीक्षक क्षेत्र-1 गौरव चन्द व आबकारी निरीक्षक क्षेत्र-2 रवि जायसवाल द्वारा दिल्ली गौतमबुद्ध नगर बॉर्डर पर कोंडली में दबिश देकर मारुति वैगनार टैक्सी गाड़ी से कुल 10 बोतल रॉयल चैलेंज दिल्ली मार्का बरमाद किया गया। संजीव कुमार पुत्र वीरेश कुमार व धीरज तिवारी पुत्र सतेंद्र तिवारी को गिरफ्तार किया गया।

बलराम सिंह आबकारी निरीक्षक क्षेत्र-3 द्वारा डीएलएफ मॉल नोएडा पर चेकिंग के दौरान एक ब्रेजा कार से 12 बोटल ब्लेंडर प्राइड 750 द्वद्य दिल्ली राज्य में बिक्री के लिए और दो तस्कर सूरज प्रताप सिंह पुत्र अनिरुद्ध प्रताप सिंह, सचिन कुमार पुत्र तेजपाल सिंह को गिरफ्तार किया गया। सेक्टर-14ए, कोंडली, झुंडपुरा, अशोक नगर बॉर्डर पर आबकारी विभाग की टीम संदिग्ध व्यक्तियों एवं वाहनों पर पैनी नजर रख रही है। किसी भी संदिग्ध वाहन या व्यक्ति को बगैर चेकिंग के आगे जाने नहीं दिया जाता। सख्ती बरते जाने से शराब तस्करों का खेल भी बिगड़ रहा है। तस्करों को नई-नई रणनीति अपनानी पड़ रही है। हालांकि इसके बाद भी उनकी दाल नहीं गल पा रही है। आबकारी विभाग ने पिछले एक माह के भीतर चेकिंग अभियान में कई शराब तस्करों को दबोचने के साथ 17-19 वाहन भी जब्त किए हैं।

दिल्ली से सटे नोएडा बॉर्डर
दिल्ली से गौतमबुद्ध नगर में अवैध शराब का परिवहन रोकने को ठोस कदम उठाए गए हैं। दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर निगरानी करने के अलावा चेक पोस्ट बनाए गए हैं। जहां संदिग्ध वाहनों एवं व्यक्तियों की जांच-पड़ताल की जा रही है। दिल्ली में शराब सस्ती होने से निश्चित रूप से तस्कर गौतमबुद्ध नगर में अपना धंधा बढ़ाने को उतावले हैं, मगर उन्हें किसी प्रकार का मौका नहीं दिया जा रहा है।
राकेश बहादुर सिंह
जिला आबकारी अधिकारी
गौतमबुद्ध नगर