• indianews86@gmail.com
  • ghaziabad, uttar pradesh

प्रयागराज, मेरठ और आगरा की टीम ने गाज़ियाबाद में डाला डेरा


प्रमोद शर्मा @ गाजियाबाद। दिल्ली से अवैध शराब को गाजियाबाद जनपद में आने से रोकने के लिए आबकारी विभाग कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रहा है। शराब तस्करों पर नकेल कसने को नित-नए कदम उठाए जा रहे हैं। शराब तस्करों की कमर तोडऩे के लिए अब गाजियाबाद के साथ प्रयागराज और मेरठ व आगरा की प्रवर्तन की टीम ने भी जनपद में दस्तक दे दी है। हालांकि पूर्व की तरह अब जनपद में दिल्ली शराब की तस्करी कम हो गई है।

जब से दिल्ली में सस्ती और फ्री शराब की स्कीम शुरु हुई है। तभी से आबकारी विभाग की टीम पूरी तरह से सक्रिय है। इस दौरान आबकारी विभाग की टीम ने दिल्ली से शराब लेकर आ रहे 50 से अधिक लोगों को सलाखों के पीछे भेजने का काम किया है। साथ ही तीन दर्जन से अधिक लग्जरी कार, दुपहिया वाहनों को सीज किया है। कहीं न कहीं आबकारी विभाग की कार्रवाई का खौफ लोगों के दिल में अब बैठ चुका है।

शराब तस्करों से निपटने को यह टीम प्रभावी कार्रवाई के मूड में है। मेरठ के उप-आबकारी आयुक्त के अलावा गाजियाबाद एवं नोएडा आबकारी विभाग की टीम को अवैध शराब के खिलाफ सघन चेकिंग अभियान में लगाया गया है। यह टीम विशेषकर दिल्ली-गाजियाबाद के बॉर्डर पर निगरानी रखने के अलावा आबकारी विभाग की चेक पोस्ट पर सक्रिय है। वहीं आबकारी विभाग की टीम एक ऐसे व्यक्ति को दिल्ली की अवैध शराब समेत पकड़ा है, जो कि वंसुधरा निवासी अपने मालिक को देेने के लिए दिल्ली से शराब लेकर यहां आ रहा था। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया।

जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह ने बताया कि संयुक्त आबकारी आयुक्त (ई.आई.बी) राजेश मणि त्रिपाठी, प्रयागराज के पर्यवेक्षण में आरके शर्मा उप-आबकारी आयुक्त मेरठ प्रभार, तुलसीराम वैद्य और ई.आई.बी, बीपी मानिकअसिसटेंट कमिश्रर एक्साइज प्रवर्तन एवं आगरा की प्रवर्तन की विशेष टीम एवं जिले के आबकारी निरीक्षक अखिलेश वर्मा, रमा शंकर सिंह, आशीष पाण्डेय, त्रिवेणी प्रसाद मौर्य, त्रिभुवन सिंह हंयाकी, अरुण सिंह, प्रशिक्षु विनय सिंह की टीम गाजियाबाद में ट्रांसपोर्ट नगर चेक पोस्ट, ईडीएम मॉल चेक पोस्ट पर संघन चेकिंग की गई।

उन्होंने बताया गाजियाबाद में दिल्ली की अवैध शराब आने से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश शासन भी बेहद गंभीर है। शासन के निर्देश पर निरंत कार्रवाई की जा रही है। इसका नतीजा यह है कि दिल्ली से गाजियाबाद में शराब तस्करी का ग्राफ नीचे आया है। शराब तस्करों को भी मालूम है कि गाजियाबाद में पकड़े जाने पर उन्हें सीधे जेल की हवा खानी पड़ेगी। अवैध शराब के साथ-साथ वह वाहन भी जब्त हो जाएगा, जिसका वह प्रयोग कर रहे थे। ऐसे में मुनाफा होने से ज्यादा नुकसान उठाना पड़ेगा। अलबत्ता शराब तस्कर अब दिल्ली से अवैघ शराब के साथ गाजियाबाद में घुसने का प्लान बदलने लगे हैं। लेकिन उनके सभी प्लान को बिगाडऩे के लिए आबकारी विभाग उनसे दस कदम आगे चल रहा है। बता दें कि दिल्ली में सस्ती और फ्री शराब की स्कीम अब समाप्त हो चुकी है।

दिल्ली की शराब पर अब 25 प्रतिशत की छूट मिल रही है। दिल्ली से शराब लाने वाले लोगों को भी अब यह आभास हो गया है कि दिल्ली से शराब लेना तो आसाना है, लेकिन उसे गाजियाबाद में लेकर आना बहुत मुश्किल है। दिल्ली से सटे बोर्डर व गाजियाबाद में प्रवेश करने वाले क्षेत्रों पर आबकारी विभाग की टीम का सख्त पहरा है। पकड़े जाने पर 10 जुर्माना और जेल की सजा का प्रावधान है।

जिला आबकारी अधिकारी ने बताया सिद्वार्थ विहार से चेकिंग के दौरान आबकारी विभाग की टीम ने दिल्ली निवासी दिलीप को 7 रेड लेवल विहस्की समेत गिरफ्तार किया गया। जिसके पास से घटना में प्रयुक्त बाइक भी बरामद किया गया। बरामद बाइक को सीज कर दिया गया है। पकड़ा गया आरोपी वंसुधरा में अपने मालिक को देने के लिए दिल्ली से रेड लेवल की बोतल लेकर आ रहा था। जिसके खिलाफ आबकारी अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है। आबकारी विभाग की टीम लगातार चेकिंग कर रही है।